सिनेमा

एक छात्र के रूप में कैसा था विराट कोहली का स्‍कोर, खुद बताई असलियत

विराट कोहली क्रिकेट के मैदान पर तो जबरदस्त हैं।

फील्डिंग से बैटिंग में उन्हें टॉप ग्रेड दी जाती है, लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि विराट ने अपने स्कूल के दिनों में एक छात्र के रूप में कितने अंक प्राप्त किए थे? भारतीय रन-मशीन बनने से पहले कोहली गणित में बेहद साधारण छात्र हुआ करते थे। कोहली ने खुद स्वीकार किया कि उन्होंने कभी भी क्रिकेट में उतनी मेहनत नहीं की, जितनी उन्होंने इस विषय में पासिंग मार्क्स हासिल करने के लिए की थी।
इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी संस्करण से पहले कोहली ने अपनी 10वीं कक्षा का रिपोर्टकार्ड शेयर किया है। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) के पूर्व कप्तान कोहली ने अपनी कक्षा 10वीं की मार्कशीट की एक तस्वीर पोस्ट की। कोहली ने लिखा- यह मजेदार है कि कैसे चीजें जो आपकी मार्कशीट में सबसे कम जोड़ती हैं, आपके चरित्र में सबसे अधिक जोड़ती हैं।
पूर्व भारतीय कप्तान कोहली की सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में फैन फॉलोइंग है। सभी प्रारूपों में अपने शतक के सूखे को समाप्त करने के बाद कोहली आईपीएल 2023 में बैंगलोर के लिए पहली ट्रॉफी जीतने की तैयारी कर रहे हैं। फाफ डु प्लेसिस की अगुवाई वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का सामना रविवार को एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में रोहित शर्मा की मुंबई इंडियंस से होगा। कोहली आईपीएल के इतिहास में सर्वकालिक शीर्ष स्कोरर हैं। आरसीबी के पूर्व कप्तान ने दुनिया की सबसे अमीर टी20 लीग में 223 मैचों में 6,624 रन बनाए हैं।
बैटिंग आइकन कोहली ने 2008 में एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) के खिलाफ आईपीएल डेब्यू किया था। आरसीबी आइकन ने 5 शतक और 44 अर्धशतक लगाए हैं। कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में अपने टेस्ट शतक के सूखे को भी खत्म किया। भारत के पूर्व कप्तान चार मैचों की टेस्ट सीरीज में रोहित एंड कंपनी के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे। कोहली ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में 297 रन बनाए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button